ARARIA अररिया ﺍﺭﺭﯼﺍ

~~~A showery district of north-eastern Bihar (India)~~~ www.ArariaToday.com

  • ARARIA FB LIKE

  • Recent Comments

    Masoom on Railway Time Table Araria…
    Raman raghav on Sri Sri 108 Mahakali Mandir…
    parwez alam on Railway Time Table Araria…
    ajay agrawal on Araria at a glance
    Tausif Ahmad on Railway Time Table Araria…
    aman on Thana in Araria – Police…
  • स्थानीय समाचार Source Araria News

    http://rss.jagran.com/local/bihar/araria.xml Subscribe in a reader
    Jagran News
    Local News from Kishanganj, Purnia and Katihar
    इन्टरनेट पर हिंदी साहित्य - कविताओं, ग़ज़लों और संस्मरणों के माध्यम से
    इन्टरनेट पर हिंदी साहित्य का समग्र रूप Saahitya Shilpi
    चिटठा: यादों का इंद्रजाल


    मैंने गाँधी जयंती पर एक संकल्प लिया! आप भी लें. यहाँ पढ़े
  • Recent Posts

  • Historial News towards Development

    (ऐतिहासिक क्षण ) # Broad Gague starts at Jogbani-Katihar Rail lines. रेलमंत्री द्वारा हरी झंडी दिखाने के साथ ही नयी लाइन पर जोगबनी से कोलकाता के लिये पहली रेल चल पड़ी। # Thanks a ton to Railway deptt.
  • RSS Hindikunj Se

    • यह कदंब का पेड़ / सुभद्राकुमारी चौहान
      यह कदंब का पेड़ / सुभद्राकुमारी चौहानयह कदंब का पेड़ अगर माँ होता यमुना तीरे।मैं भी उस पर बैठ कन्हैया बनता धीरे-धीरे।।ले देतीं यदि मुझे बांसुरी तुम दो पैसे वाली।किसी तरह नीची हो जाती यह कदंब की डाली।।तुम्हें नहीं कुछ कहता पर मैं चुपके-चुपके आता।उस नीची डाली से अम्मा ऊँचे पर चढ़ जाता।।वहीं बैठ फिर बड़े मजे से मैं बांसुरी बजाता।अम्मा-अम्मा कह वंशी के स्वर में […]
      Ashutosh Dubey
    • छात्रवृति के लिए पत्र
      छात्रवृति के लिए  पत्रLetter for scholarshipसेवा में ,प्रधानाचार्य महोदय ,महात्मा गाँधी स्मारक विद्यालयनयी दिल्ली - ७८ विषय - छात्रवृति के लिए  पत्रमहोदय , सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय में कक्षा ९ ब  का छात्र हूँ । मेरे  पिता जी काफी दिनों से अस्वस्थ चल रहे हैं तथा उनका व्यापार भी घाटे में जा रहा है। अस्वस्थता के कारण दूकान भी नहीं चल पा रही है। माता […]
      Ashutosh Dubey
    • बस चालक की शिकायत हेतु पत्र
      बस चालक की शिकायत हेतु पत्रLetter of bus driver complaintसेवा में ,प्रधानाचार्य महोदय ,महात्मा गाँधी स्मारक विद्यालय ,नयी दिल्ली - ७५ .विषय - बस चालक की शिकायत हेतु पत्र महोदय . सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय की कक्षा ९ ब की छात्रा हूँ . मैं विद्यालय की बस रूट न . १२५ द्वारा यात्रा करती हूँ . इस पत्र द्वारा मैं आपका ध्यान बस चालक की ओर ले जाना चाहती हू […]
      Ashutosh Dubey
    • एक अछूत बच्चे के सवाल
      एक अछूत बच्चे के सवालमैं तो अछूत बच्चा हूँ जीसमझ का भी थोड़ा कच्चा हूँ जी।मुझे समझना है कि पापा क्यों पीते हैं।मुझे समझना है कि घर के बर्तन क्यों रीते हैं।मुझे समझना है कि मम्मी क्यों पिटती हैं।मुझे समझना है कि भूख कैसे मिटती हैं।क्यों मां मुझको मंदिर नहीं जाने देती हैं।क्यों माँ त्योहारों में भीख लेती है।मेरे पापा को कोई काम क्यों नहीं देता हैं।मेरे घर में आ […]
      Ashutosh Dubey
    • स्कूल बस सेवा के लिए अनुरोध पत्र
      स्कूल बस सेवा के लिए अनुरोध पत्रRequest letter for school bus service१३५ विकास नगर ,नयी दिल्ली - ४५दिनांकः १८/०८/२०१७सेवा में ,प्रधानाचार्य महोदय ,महात्मा गाँधी स्मारक विद्यालय,नयी दिल्ली - ७५विषय - स्कूल बस सेवा के लिए अनुरोध पत्रमहोदय ,सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय का  एक नया छात्र हूँ .मेरा घर विद्यालय से काफी दूर है . अतः मुझे विद्यालय आने के लिए […]
      Ashutosh Dubey
    • परियोजना कार्य को पूरा करवाने के लिए पत्र
      परियोजना कार्य को पूरा करवाने के लिए पत्रLetter to complete the project work१३५ ,विकास नगर ,नयी दिल्ली - १५.दिनांक : १८ /०८/२०१७आदरणीय नानी जी , सादर चरण स्पर्श ,आशा है कि आप कुशलता से होंगी . हम गर्मियों की छुट्टियों में इस बार कोलकाता आ रहे हैं . माँ ने कहा है कि हम कम से कम पंद्रह दिन तक वहां रहेंगे . हमेशा की तरह मुझे इस वर्ष भी विद्यालय से कई परियोजना क […]
      Ashutosh Dubey
    • वीर तुम बढ़े चलो ! धीर तुम बढ़े चलो !
      वीर तुम बढ़े चलो ! धीर तुम बढ़े चलो !वीर तुम बढ़े चलो ! धीर तुम बढ़े चलो !हाथ में ध्वजा रहे बाल दल सजा रहेध्वज कभी झुके नहीं दल कभी रुके नहींवीर तुम बढ़े चलो ! धीर तुम बढ़े चलो !सामने पहाड़ हो सिंह की दहाड़ होतुम निडर डरो नहीं तुम निडर डटो वहींवीर तुम बढ़े चलो ! धीर तुम बढ़े चलो !प्रात हो कि रात हो संग हो न साथ होसूर्य से बढ़े चलो चन्द्र से बढ़े चलोवीर तुम ब […]
      Ashutosh Dubey
    • कारवाँ गुज़र गया / गोपालदास नीरज
      कारवाँ गुज़र गया / गोपालदास नीरजस्वप्न झरे फूल से,मीत चुभे शूल से,लुट गये सिंगार सभी बाग़ के बबूल से,और हम खड़े-खड़े बहार देखते रहेगोपालदास नीरजकारवां गुज़र गया, गुबार देखते रहे!नींद भी खुली न थी कि हाय धूप ढल गई,पाँव जब तलक उठे कि ज़िन्दगी फिसल गई,पात-पात झर गये कि शाख़-शाख़ जल गई,चाह तो निकल सकी न, पर उमर निकल गई,गीत अश्क़ बन गए,छंद हो दफ़न गए,साथ के सभी द […]
      Ashutosh Dubey
    • मेरी वो
      मेरी वोवो एक आदत हैजो चिपकी है तन मन से।वो शराब है।जो नशा उतारती है।खोल देती है ताले।चाहे कितने भी जंगलगे क्यों न हों।कल्पना की दुनिया से वोखींच लेती है सच्चाईके धरातल पर।महीने की कमाईबच्चों की पढ़ाईनमक तेल से लेकररिश्तों की गांठों तकवह खोलती हैं परतेंमन की उन्मुक्त उड़ान कोपल भर में अपने चाबुक सेला खड़ा करती है धरातल परअवसाद और कष्ट के गहनपलों को चुनकर बाहर नि […]
      Ashutosh Dubey
    • हे प्राणों के दाता ईश्वर
      हे  प्राणों के  दाता  ईश्वरहे  प्राणों के  दाता  ईश्वर  !इतनी  विनय  करुं  मै !तेरे   प्रतापो   से   ही  ।तेरा   संतान   बनूं   मै  !तेरे  ऊज्जवल  किरणों  से  ।तेरा  प्रकाश   बनूं   मै    !मिटाऊंँ  घोर   अंधेरा    ।बनकर   दीप   जलूं  मै   !पवन  वेग  संग  उङकर  ।नभ  मे  छा  जाऊँ   मै   !दुर्गंध  निकालूं   सबकी  ।ऐसी  खुशबू  बन  जाऊँ  मै !मेघो  के  संग  बरसूं […]
      Ashutosh Dubey
  • Month Digest / अभिलेखागार

  • Total Visits

    • 227,915 hits
  • Follow ARARIA अररिया ﺍﺭﺭﯼﺍ on WordPress.com

बाढ़ राहत कार्यों में योगदान देने के लिए आप सभी का शुक्रिया !

Posted by Sulabh on September 21, 2008

देश के जिम्मेदार नागरिको एवं विभिन्न प्रतिष्ठानों ने जिस प्रकार अपने बजट और विभिन्न माध्यमो से सहायता भेजी हम अररिया वासी उसके लिए शुक्र गुजार हैं. अब जरुरत बस इतनी है की, एन जी ओ, सरकारी सेवादलो और विभिन्न राजनैतिक कार्यकर्ताओं द्वारा सही वितरण एवं उचित पोषण दिया जाए. हालांकि बर्बादी से पुरी तरह उबरा तो नही जा सकता पर फिर भी हम आने वालो अच्छे दिनों के लिए इश्वर से प्रार्थना करते हैं.

Flood and Relief Operation

Flood and Relief Operation

 

 Source: by Amit Jain, Araria

 

Advertisements

One Response to “बाढ़ राहत कार्यों में योगदान देने के लिए आप सभी का शुक्रिया !”

  1. Dear Sulabh,
    We are happy to know that Mr Samad was from Araria. I know his name but i was thinking that he is from else where. Please post this type of literature in future also.
    Please give us your email id or mobile number, so, i can suggest you something else also.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: