ARARIA अररिया ﺍﺭﺭﯼﺍ

~~~A showery district of north-eastern Bihar (India)~~~ www.ArariaToday.com

  • ARARIA FB LIKE

  • Recent Comments

    Masoom on Railway Time Table Araria…
    Raman raghav on Sri Sri 108 Mahakali Mandir…
    parwez alam on Railway Time Table Araria…
    ajay agrawal on Araria at a glance
    Tausif Ahmad on Railway Time Table Araria…
    aman on Thana in Araria – Police…
  • स्थानीय समाचार Source Araria News

    http://rss.jagran.com/local/bihar/araria.xml Subscribe in a reader
    Jagran News
    Local News from Kishanganj, Purnia and Katihar
    इन्टरनेट पर हिंदी साहित्य - कविताओं, ग़ज़लों और संस्मरणों के माध्यम से
    इन्टरनेट पर हिंदी साहित्य का समग्र रूप Saahitya Shilpi
    चिटठा: यादों का इंद्रजाल


    मैंने गाँधी जयंती पर एक संकल्प लिया! आप भी लें. यहाँ पढ़े
  • Recent Posts

  • Historial News towards Development

    (ऐतिहासिक क्षण ) # Broad Gague starts at Jogbani-Katihar Rail lines. रेलमंत्री द्वारा हरी झंडी दिखाने के साथ ही नयी लाइन पर जोगबनी से कोलकाता के लिये पहली रेल चल पड़ी। # Thanks a ton to Railway deptt.
  • RSS Hindikunj Se

    • विश्व योग दिवस
      मानव और प्रकृति के मध्य समन्वय ही योग है(21 जून को विश्व योग दिवस पर विशेष )महर्षि पतंजलि के अनुसार - ‘‘अभ्यास-वैराग्य द्वारा चित्त की वृत्तियों पर नियंत्रण करना ही योग है।’’ विष्णुपुराण के अनुसार -‘‘जीवात्मा तथा परमात्मा का पूर्णतया मिलन ही योग ;अद्वेतानुभुति योग कहलाता है।’’विश्व योग दिवसभगवद्गीताबोध के  अनुसार- ‘‘दुःख-सुख, पाप-पुण्य,शत्रु-मित्र, शीत-उष्ण […]
      Ashutosh Dubey
    • मुश्किलों से जूझते रहना क़लम
      मुश्किलों से जूझते रहना क़लम            मुश्किलों  से जूझते  रहना क़लम।हौंसलों की कहानी कहना क़लम।।        है   विवशता  से  भरा  हर  आदमी।        बोझ   कितना लिए है  सर आदमी।बृज राज किशोर " राहगीर "        आज भी कुछ काम मिल पाया नहीं,        टूटकर  चल  दिया  है  घर आदमी।दर्द उसका भी ज़रा सहना क़लम।मुश्किलों से  जूझते रहना क़लम।।        रोटियाँ ही   […]
      Ashutosh Dubey
    • मईया अब तुम ही समझाओ
       मईया अब तुम ही समझाओमईया अब तुम ही समझाओमन में प्रश्न अखरता है।रात होते ही चंदा क्यों मेरा पीछा करता है।मैं जो चलूँ तो चलने लगतारुक जाऊँ तो रुक जाता है।मैं जो हँसू तो हँसने लगताशरमाऊँ तो शरमाता है।मईया बोली सुन रे बेटा,इसमें नहीं दुराहा है।वैसे भी चंदा तो बेटा लगता तेरा मामा है।जैसे भौरा रस की खातिरफूलों पर मंडराता है।अम्बर अवनी को बाँहों मेंभरने को हाथ बढ़ा […]
      Ashutosh Dubey
    • चुनावी हथकंडे
      चुनावी हथकंडेरास्ते मे देखाएक नेता जैसाआदमी....एक गरीब के पैरपर पड़ा था।मुझे आश्चर्य हुआपता चला वहचुनाव में खड़ा था।कुछ दूरगरीबों का मोहल्ला था।देखा वहां बहुत हल्ला था।वहां एक घटना घटी।घर घर शराब बटी।रात में जबसब सो रहे थे।नेताजी...चुनाव के बीजबो रहे थे।नेता जी के लोगदुबक करमलाई चाट रहे थे।चुनावी पर्चियां मेंरख करपांच सौ के नोटबांट रहे थे।नेता जी महिलाओंसे रिश […]
      Ashutosh Dubey
    • व्यंग्य
      व्यंग्य जब मैं कहता हूँ ‘मेरी समझ में व्यंग्य’ तो इसे दो भागों में बांटा जा सकता है-पहला –‘मेरी समझ’ और दूसरा –‘व्यंग्य’ .जब मैं अपनी समझ के बारे में सोचता हूँ तो हंसी आती है .मुझे समझदार कोई और तो खैर क्या मानेगा मैं खुद ही नहीं मानता .अपने अब तक के किये पर नजर दौड़ता हूँ तो समझदारी से किया हुआ एक आधा काम भी नजर नहीं आता फिर वह लिखाई-पढाई हो ,नौकरी हो, प्रेम […]
      Ashutosh Dubey
    • मेरी माँ
      मेरी माँमाँ को ईश्वर से मिला है ममता का वरदानसच पूछो तो माँ इंसान नहीं है भगवानजब कभी मन होता बैचेनमाँ के सीने से लगकर मिलता है चैनमाँ ही है जो हमे बोलना सिखाती हैखुद थोडा सा खाकर रह जाती हमें भरपेट खिलाती हैमाँ करती है अपने बच्चों के लिए दुआ भी जाती हैमाँ के होते कोई मुसीबत ना हमको छू पाती हैरोज सुबह उठकर छूता हूँ मैं अपनी माँ के पाँवकडी धूप में माँ करती है […]
      Ashutosh Dubey
    • प्यारी कोयल
      प्यारी कोयलप्यारी कोयल-प्यारी कोयल,       तू इतना प्यारा कैसे गाती है?कोयलतू क्या खाती और क्या पीती?,       तू मुझको क्यों नहीं बतलाती है?कू-कू ,कू-कू तेरी बोली,       मन में मेरे घर कर जाती है।तू अपना तो राज़ बता,       फ़िर क्यों नहीं हमराज़ बनाती है?प्रभात हुआ सूरज निकला,       और तू मधुर गति से गाती है।तभी पड़े कानों में मेरे ध्वनि,       आकर मुझको जगाती है। […]
      Ashutosh Dubey
    • पिता का घोंसला
      पिता का घोंसलामेरी खिड़की पर चिड़ियों एक घोसला बना था। मैंने देखा उसमे से कुछ दिनों से आवाज़ नही आ रही थीं।मुझे लगा अब इसे हटा देना चाहिए। घोंसला ऊंचा था।मैंने टेबिल पर कुर्सी रखी और उस पर चढ़ने लगा।मेरे 75 साल के पिता जी जो आज भी शारीरिक रूप से मुझ से ज्यादा तंदुरुस्त हैं चिल्लाए"रुक जा सुशील तुझ से नही बनेगा,मुझे मालूम है तू हर काम थतर मतर करता है।हट मैं […]
      Ashutosh Dubey
    • आदत
      आदतअजीब सा शख्स हैं कुछकभी कहता हैकभी कहता ही नही,खामोश हो दरियारूबी श्रीमालीतो क्या बहता नही,सफर ही कुछऐसा है जिंदगी का,हमसफर हो कोईये जरूरी तो नहीतन्हा क्या यहॉलोग रहते नही,दूंढ लेते है हम अक्सरतन्हाई में भी खुशियाकौन कहता हैतन्हा कोई खुशरहता नही,गुलाब गुलाबहोता है,क्या सुख जाने परकोई गुलाब उसेकहता नही,दिल लगाने कीबात कहते हैं वो,उन्हें क्या खबरहम सिवा अपन […]
      Ashutosh Dubey
    • देश की दशा
      देश की दशा आज कीभारत एक ऐसा देश है जिसका स्वर्णिम इतिहास पूरे विश्व के लिए प्रेरणास्रोत बना है ।सभी क्षेत्रों में इसने जो योगदान दिया है,वह स्तुत्य है ।खगोलशास्त्र में कणाद, गणित में आर्यभट्ट,ब्रह्मशास्त्र में शंकराचार्य, राजनीति में महात्मा गाँधी आदि क्षेत्रों के कई महान चरित्र इस देश के हैं जिन्हें पूरे विश्व में आदर्श के रूप में देखा जाता है ।वर्त्तमान सम […]
      Ashutosh Dubey
  • Month Digest / अभिलेखागार

  • Total Visits

    • 217,338 hits
  • Follow ARARIA अररिया ﺍﺭﺭﯼﺍ on WordPress.com

Editorial Column: Good news for Araria

Posted by Sulabh on March 28, 2011

My Dear Friends,

I appreciate your comments especially emotions for the hometown Araria. One good news is –our site is getting around 70-100 visitors per day. I would like to say something as a moderator of this website/blog.

 

# kindly, put only relevant comments under appropriate section/post/pages.

# please avoids repetitive comments as I am seeing many places on this site.

# please avoids personal comments on public pages. For such activities I will setup a login section for private messages.

# Kindly, follow the instructions given by Sir Solyl Kundu. He is one of the most experienced and respected person of our district araria.

# Soon, I will try to attach a separate Discussion Forum for you nice guys. Now I feel that this is highly required in order to make this site organized and should be valuable for all fellow citizens as well as other netizens.

# I will try to launch a separate dedicated website for Araria. (www.arariatoday.com). Very soon I will start to work on design part with the help of any expert web designer.

Meanwhile, keep in touch and you can also contribute any valuable content(if any) relevant to the district. I am waiting something creative from you people J

This year in the month of October-November I will try to organize a big seminar in Araria. Topic would be “IT Business & Management” (Entrepreneurship development in rural, sub-urban, urban areas).

I am writing one another blog may be useful for Indian youth. Here is the url http://sulabhjaiswal.wordpress.com/ visit this and give your valuable opinion in order to boost our country.

For any kind of help I am available via email/phone.

Yours truly

Sulabh

(Passionate to work for Araria)
sulabh.jaiswal@gmail.com

Advertisements

No Responses Yet to “Editorial Column: Good news for Araria”

  1. NDRI TO TRAIN 660 DAIRY FARMERS OF BIHAR
    KARNAL,

    Jan 8,

    National Dairy Research Institute (NDRI) will impart training to 660 dairy farmers of different districts of Bihar this year through 22 training programmes on clean milk production said Dr. A.K. Srivastava Director of this Institute.

    He added that these programmes will be sponsored by the Directorate for Dairy Development, Patna and Krishi Vigyan Kendra (KVK) and Dairy Training Centre (DTC) of NDRI will organize these programmes.

    Dr.Dalip K. Gosain, Programme Coordinator of Krishi Vigyan Kendra (KVK) and Dairy Training Centre (DTC) of NDRI told that this week first training programme of five days was organized for the 30 dairy farmers of Araria district of Bihar. Gosain told that the group was shown and explained the best management practices regarding rearing of cattle and buffaloes so to have clean milk production in their herd.

    The dairy farmers were imparted training on scientific dairy farming that encompassed improved breeding, feeding, healthcare, management, and clean milk production by the experts of NDRI he added.
    Farmers were explained the feeding practices of dairy cattle and buffaloes in the institute cattle yard and at different dairy farms in villages and demonstrations on clean milk production using machine milking were organized he added.

    Dr.Gosain in the valedictory session said that the farmers should share the learnt technologies with other dairy farmers in their districts so that through adoption of these technologies farmers could get enhanced and clean milk production. He added that dairying has immense potential in Bihar that would provide more milk to the farm families for consumption and also for sale.

    Dr.Satyapal, Ms. Saroj Mehta, Dr.S.K.Gupta, Mohar Singh and other officials of the KVK and DTC imparted the need based training to the trainees.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: